Evergreen Shayari From The legend Gulzar Sahab. Heart touching Lines.

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,
उनके इंतजार में दिल तरसता है,
क्या कहीं इस कमबख्त दिल को…..
अपना होकर किसी और के लिए धड़कता है |

मुद्दतें लगी बुनने में ख्वाब का स्वेटर,
तैयार हुआ तो मौसम बदल चुका था |

कोई पूछ रहा है मुझसे मेरी जिंदगी की कीमत,
मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना |

उसने कागज की कश्तीया पानी मे उतारी,
और ये कह के बहा दी कि समन्दर मे मिलेंगे |

हाथ छूटे तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते,
वक्त की शाख से लम्हे नहीं तोडा करते |

Gulzar Shayari In Hindi Images

दिल पर दस्तक देने कौन आ निकला है,
किस की आहट सुनता हूँ वीराने में |

वो मोहब्बत भी तुम्हारी थी, वो नफरत भी तुम्हारी थी,
हम अपनी वफा का इंसाफ किससे मांगते,
वो शहर भी तुम्हारी थी,
वो अदालत भी तुम्हारा था |

हम तो समझे थे कि हम भूल गए हैं,
उनको क्या हुआ आज यह किस बात पे रोना आया |

सहमा सहमा डरा सा रहता है जाने क्यों जी भरा सा रहता है

सहमा सहमा डरा सा रहता है,
जाने क्यों जी भरा सा रहता है |

कैसे करें हम खुद को तेरे प्यार के काबिल जब हम बदलते हैं तो तुम शर्ते बदल देते हो

कैसे करें हम खुद को तेरे प्यार के काबिल,
जब हम बदलते हैं तो तुम शर्ते बदल देते हो |

Tagged:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *